आप भी बन सकते हैं अच्छे जीवन-साथी

आप भी बन सकते हैं अच्छे जीवन-साथी

हर विवाहित व्यक्ति चाहता है कि वह अपने साथी के लिए अच्छा जीवन-साथी सिद्ध हो और एक दूसरे की उम्मीदों पर खरा उतरे पर बहुत कम ही जोड़े ऐसे देखने को मिलते हैं जो वाकई खुश, सुखद और सफल वैवाहिक जीवन जी रहे हों पर ऐसा मुमकिन है कि आप की गिनती भी सफल वैवाहिक जोड़ों में हो और लोग आपको देखकर जलें। बस थोड़ी सी कोशिशों की जरूरत है। आइए जानें वे कोशिशें क्या हों -:
– एक दूसरे को बदलने की कोशिश न करें:- अक्सर ऐसा होता है कि हम एक दूसरे को बदलने की कोशिश करते हैं। दूसरे को बदलना उतना आसान नहीं होता जितना सोचा जाता है। हमेशा ध्यान रखें कि व्यक्ति अगर खुद न चाहे तो कोई उसे बदल नहीं सकता। जहां तक बाहरी सौंदर्य की बात है या फिजिकल अपीयरेंस की तो वह एक रात में नहीं बदलने वाली। उसके लिए हर व्यक्ति को कुछ समय चाहिए। इसलिए बेहतर है कि आप एक दूसरे को उसी रूप में प्यार करना सीखें जो वह है।
– अपनी भावनाओं को एक दूसरे के सामने प्रकट करें:- अपनी भावनाओं को अपने जीवन साथी के सामने जाहिर करें। वह खुदा नहीं है जो आपका चेहरा पढ़ लेगा। अक्सर पत्नियां अपने पतियों से नाराज हो जाती है और पति बेचारा अपने दिमाग पर जोर देता रहता है कि उसने ऐसा क्या कह दिया जो उसकी पत्नी के कोप का कारण बन गया। चाहे नाराजगी हो, चाहे खुशी, आप अपने को जाहिर करें। तभी आपका जीवनसाथी आपकी भावनाओं को ठेस न पहुंचाने की कोशिश कर पाएगा।
क्या होगा बाल श्रमिकों का भविष्य
– इकटठे काम करें:- कोई भी काम हो, उसे एक दूसरे के कामों में न बांटें। यह नहीं कि सब्जी बनाने का काम आपकी पत्नी का ही है। अगर आपके पास समय है तो आप बना डालिए नहीं तो किचन में उनके साथ मदद करें। इसके अतिरिक्त ऐसी एक्टिविटी अपनाएं जिसमें आप दोनों को एक दूसरे के साथ समय बिताने का मौका मिलें जैसे इकटठे सैर पर जाएं, फिल्म देखें, क्रिकेट मैच देखें या विंडो शापिंग करें जिसे करते हुए आप दोनों एंजाय करें। दोस्तों की बजाय अगर आप एक दूसरे के साथ समय बिताते हैं तो आपको एक दूसरे का सामीप्य मिलता है।
‘गिव एंड टेकÓ:- रिलेशनशिप हर रिश्ते में होती है। अगर आप उनकी बात मानेंगे तो वो भी आपकी थोड़ी बहुत मानेंगी। अगर आपका कमरे में चीजें बिखेरना उन्हें पसंद नहीं तो फौरन चीजों को यथास्थान रख दें और अपनी गलती सुधार लें। ये छोटी-छोटी बातें ही बड़े मतभेद बनती है,
इसलिए एक दूसरे की बातें मानने में कोई हर्ज नहीं।
कुछ भी ऐसा करें जिससे आप एक दूसरे को रोमांटिक होने का अनुभव करा सकें। अगर आप अपना प्यार जाहिर करते रहेंगे तो आपके जीवन साथी को महसूस होगा कि आप उनसे प्यार करते हैं, उनकी परवाह करते हैं। प्यार झलकाने का तरीका कोई भी हो, यह आपके रोमांस को जिंदा रखेगा। भले ही आपको आपके जीवन साथी में कोई कमी लगती हो पर उसका एहसास उसे न कराएं और न ही उसे मजाक का विषय बनाएं। अपने जीवन-साथी को पूरा सम्मान दें। प्यार का अर्थ ही एक दूसरे की भावनाओं को सम्मान देना है।
प्रेम की प्रतिमूर्ति ही तो थे सत्य साईं बाबा
– शक न करें:- थोड़ी-बहुत असुरक्षा की भावना तो इस रिश्ते में होती हैं पर अगर आप शक्की बनते हैं तो अपने दांपत्य जीवन में जहर घोलते हैं। शक के कारण आप अपने अच्छे जीवन-साथी को खो सकते हैं, इसलिए एक दूसरे पर विश्वास करना सीखिए।
– वादा निभाएं:- अगर आप अपनी बात पूरी नहीं कर सकते तो ऐसा कोई वादा अपने जीवन साथी से न करें। आपका जीवन सबसे महत्त्वपूर्ण है और उसके लिए आपको अपना कोई जरूरी कार्य रद्द भी करना पड़े तो कर दें। अगर आपने उनके साथ डिनर का प्रोग्राम बनाया है तो उन्हें जरूर ले जाएं। वादे निभाने की आपकी आदत आपके जीवन साथी को अच्छा महसूस कराएगी।
अगर आप अपने जीवन साथी के प्रति ईमानदार नहीं तो आपके साथ कौन ईमानदार होगा। ईमानदारी का अर्थ है कि अपनी भावनाओं को उन्हें बताएं। अगर आप गुस्सा हैं तो उन पर जाहिर करें। अगर खुश हैं तो भी जाहिर करें। यह ईमानदारी आपके जीवन साथी का आप में विश्वास कायम रखेगी।
– सोनी मल्होत्रा

Share it
Top