अब कहते हैं ‘मौन’ ही ठीक था

अब कहते हैं ‘मौन’ ही ठीक था

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह को पूरे समय इस बात के लिए निशाने पर लिया जाता रहा कि वो कभी कुछ बोलते ही नहीं हैं। हर मामले में वो ‘मौन’ साध लेते हैं। ठीक वैसे ही जैसे कि इन दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कर रहे हैं। बहरहाल लंबे अरसे के बाद लोगों का इंतजार खत्म हुआ और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने संसद में मौन तोड़ते हुए इस सरकार को जमकर घेरा। इसके साथ ही उन्होंने आंध्र प्रदेश रिऑर्गनाइजेशन बिल पर मोदी सरकार पर आरोपों की झड़ी लगा दी।
मतदाता बताएगा रिजेक्टेड माल कौन ?
उन्होंने राज्यसभा में कहा कि केंद्र आंध्र प्रदेश के स्पेशल पैकेज जारी करे। इस मुद्दे पर अपनी बात रखते हुए उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की ओर से दो साल पहले किए गए वादे पूरे किए जाएं। यह सुन अब प्रधानमंत्री मोदी सहित भाजपा व उसके सहयोगी पार्टियों के नेता संभवतः यही कह रहे होंगे कि इससे तो उनका ‘मौन’ ही अच्छा था, कम से कम इस प्रकार से सदन में सरकार घिरती तो नहीं।

Share it
Top