अपने होठों को बनायें सुंदर

अपने होठों को बनायें सुंदर

चेहरे के सभी अंगों की अपनी-अपनी विशेषताएं हैं किंतु होंठों का इनमें विशेष स्थान है। ये चेहरे की सुंदरता के केंद्र होते हैं। नर्म, कोमल, लालिमायुक्त तथा मध्यम मोटाई लिए सुडौल होंठ चेहरे की सुंदरता में चार चांद लगाते हैं।
सौंदर्यशास्त्रियों ने तो इनके महत्त्व की स्पष्ट घोषणा करते हुए कहा कि सुंदर, सुडौल होंठों के बिना किसी सुंदर चेहरे की कल्पना ही असंभव है। कवियों ने भी इसकी तुलना नयी कोंपल एवं गुलाब की पंखुडिय़ों से की है।
जिस प्रकार अच्छे स्वस्थ, सुडौल, लाल होंठ चेहरे की सुंदरता बढ़ाते हैं, उसी तरह सूखे, पपड़ीले और बेढंगे होंठ चेहरे की सुंदरता व आकर्षण घटाते हैं। अपने चेहरे की खूबसूरती बढ़ाने के लिए होंठों को स्वस्थ, सुंदर, कोमल, सुडौल व सरस बनाना आवश्यक है।
ठण्डी हवा चलने से प्राय: होंठ फट जाते हैं। अत: इसे फटने से बचाने के लिए सोते समय नींबू, गुलाब जल व ग्लिसरीन का मिश्रण लगाएं। शहद में गाय का शुद्ध घी और गुलाब जल मिलाकर होंठों पर लगाने से होंठ सुंदर व सुडौल रहते हैं। यदि होंठ बराबर सूखते हैं तो कभी-कभी मलाई अथवा स्वच्छ दूध को रूई में भिगोकर होंठों पर लगाइए।
बाल कहानी: सैमी ने उडऩा सीखा

बहुत-सी महिलाओं के होंठों में झुर्रियां पड़ जाती हैं, अत: इसको दूर करने के लिए मक्खन अथवा ग्लिसरीन को होंठों पर फिराने से होंठों की खुश्की समाप्त हो जाती है। नमक और शहद मिलाकर लगाने से भी इसमें लाभ मिलता है। होंठों का खुरदरापन अथवा फटना लिपस्टिक लगाने से भी बंद हो जाता है। किन्तु ध्यान रखें लिपस्टिक लगाने के पूर्व होंठों पर हल्का-सा मक्खन लगाकर पोंछ दें। रात्रि में सोते वक्त नाभि व नाक में कुछ दिन नियमित रूप से दो बूंद शुद्ध सरसों तेल डालने से भी होंठों का सूखना व फटना बंद हो जाता है।
ग्लोइंग फ्रेश त्वचा के लिए
कभी-कभी होंठों में कालापन आ जाता है। गुलाब की पत्तियों को पीसकर होंठों पर लगाने से उसकी कालिमा दूर हो जाती है। लाल गुलाब की पत्तियों को मक्खन के साथ मिलाकर होंठों पर लगाने से होंठ मनमोहक बन जाते हैं। मलाई या दही को थोड़ा गुनगुना कर लगाने से होंठ मुलायम रहते हैं।
उपर्युक्त नुस्खों को अपनाने से आपके होंठ इतने आकर्षक हो जाएंगे कि लोग अनायास उनकी सुंदरता देखकर तरस उठेंगे।
-विपिन कुमार

Share it
Share it
Share it
Top