अनमोल वचन

अनमोल वचन

यह जीवन है, इसमें नाना प्रकार की समस्याएं भी आती हैं और रूकावटों का सामना भी करना पडता है। निर्बाध जीवन न किसी को मिला है, न मिलेगा। जिन्हें हम परमात्मा का अवतार मानकर पूजते हैं, उन भगवान राम और भगवान कृष्ण को किन-किन समस्याओं से जूझना पडा, यह हम सबको ज्ञात है। प्रकृति और इसके तत्व हमें शिक्षा देते हैं, उनसे शिक्षा लो, प्रेरणा पाओ। जैसे अग्नि तत्व का स्वाभाव है, वह सदा ऊपर की ओर जाती हैं, आगे बढती हैं। आप भी ऊपर उठो, आगे बढो, उन्नति करो। जो रूकावटें आयें, अग्नि की भांति उन्हें भस्म करते जाओ अर्थात उन पर विजय प्राप्त करते जाओ। अग्नि ऊपर इसलिए उठती है कि वह सूर्य का अंश है, सूर्य की ओर जाना चाहती है। तुम आत्मा हो, तुम परमात्मा का अंश हो, तुम भी परमात्मा को पाने के लिये ऊपर उठो, अग्नि बनो, अग्नि बनने का अर्थ यह न लो कि दूसरों को जलाओ, किसी को नष्ट करो, मात्र यह लो कि जो अवरोध आयें, उन्हें समाप्त करो, जो भी समस्याएं आयें, उनका निदान करो, ताकि आप अपने पवित्र उद्देश्य की पूर्ति कर सकें।

Share it
Top