अनमोल वचन

अनमोल वचन

anmol-vachan-logoजीवन चलने का नाम है अर्थात जीवन गति का नाम है। रूके रहने, थम जाने में, निष्क्रिय बने रहने में जडता परिलक्षित होती है। जडता अर्थात मृत्यु। जो जड हो गया, रूक गया, जीवन की गाडी उससे बहुत दूर निकल जाती है। जो पीछे मुडकर चलता है, वह हाथ मलता ही रह जाता है, किन्तु गतिशील बने रहने का यह अर्थ नहीं कि विध्वंसात्मक कार्यों में ऊर्जा नष्ट की जाये, जिससे सभी का अहित हो। जब तक जीवन है, तब तक जीवन में मिले समय के मूल्य को पहचानो। रचनात्मक और उन्नतोमुख कार्य करते हुए प्रगति के सोपान पर चढते जाओ। जो समय को नहीं पहचानता, वह पिछड जाता है। समाज उसे कूडा समझकर कूडेदान में फेंक देता है। पृथ्वी तथा अन्य ग्रह जड होते हुए भी क्रियाशील हैं। पृथ्वी तेज गति से सूर्य के चक्कर लगा रही है। ब्रह्माण्ड के हर कण में स्पंदन है, गति है। तुम तो चेतन जीव हो। जीवन के अर्थ को समझो। क्रियाशीलता का अर्थ जीवन है, स्थायित्व का अर्थ मृत्यु है। जीवन का वरण करो, मृत्यु का नहीं।आप ये ख़बरें अपने मोबाइल पर पढना चाहते है तो दैनिक रॉयलunnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे.]. 

Share it
Share it
Share it
Top