अनमोल वचन

अनमोल वचन

anmol vachan3सेवा से मेवा मिलती है, यह कहावत लगभग सभी ने सुनी होगी। इसका अर्थ यही है कि जो कार्य सेवा भावना से किया जाता है, उसका परिणाम हमेशा मीठा होता है। इस सच्चाई को जानते भी इस कलियुग में इन्सान के मन में मां-बाप के प्रति, बहन-भाईयों के प्रति, समाज के प्रति, देश के प्रति, गुरूओं के प्रति, आदर सत्कार कम होता जा रहा है। जानते समझते भी हम नादान बन बैठे हैं। हमें अपने कत्र्तव्यों के प्रति जागृत होकर मां-बाप की सेवा करनी चाहिए। उनका आशीर्वाद पाना चाहिए। हृदय की गहराई से निकले आशीष वचन सदैव फलीभूत होते हैं। देश भक्त बनें, देश की सेवा करें। कोई ऐसा कार्य न किया जाये, जो देशहित के विपरीत हो। गरीबों, अपंगों एवं बुजुर्गों की सेवा से प्रभु का आशीर्वाद लें। इनकी सेवा से मन को शांति मिलेगी, क्योंकि नर सेवा ही नारायण सेवा है। अपने हाथों से की गई सेवा की बडी महत्ता है। सेवा करते समय हमारे मन में ऊंच-नीच, अमीर-गरीब का भेदभाव, अहंकार का भाव नहीं होना चाहिए। ऐसा होने पर हमारे द्वारा की गई सेवा का महत्व ही समाप्त हो जाता है।

Share it
Top