अधिकांश खाद्य तेल एवं गेहूँ मजबूत, चना-चीनी स्थिर

अधिकांश खाद्य तेल एवं गेहूँ मजबूत, चना-चीनी स्थिर

dal mandiनई दिल्ली। विदेशी बाजारों में गिरावट के बावजूद स्थानीय स्तर पर माँग आने से आज दिल्ली थोक जिंस बाजार में अधिकांश खाद्य तेलों में तेजी रही। वहीं, गेहूँ मजबूत हुआ जबकि दालों में मिश्रित रुख रहा। चना और चीनी में स्थिरता रही।
तेल-तिलहन: अंतरराष्ट्रीय बाजारों में मलेशिया के बुरसा मलेशिया डेरिवेटिव एक्सचेंज में पाम ऑयल का अक्टूबर वायदा 18 रिंगिट टूटकर 2,482 रिंगिट प्रति टन पर आ गया। अमेरिकी सोया वायदा भी 0.33 सेंट गिरकर 31.66 सेंट प्रति पौंड बोला गया। स्थानीय बाजार में माँग निकलने से तिल तेल 300 रुपये, चावल छिलका तेल 200 रुपये, सोया रिफाइंड एवं सोया डिगम 50-50 रुपये तथा पाम ऑयल 20 रुपये प्रति कुन्तल मजबूत हो गये। सामान्य माँग के कारण बिनौला तेल, सरसों तेल एवं मूँगफली तेल में स्थिरता रही। इसके अलावा अखाद्य तेलों में भी कमोबेश टिकाव रहा।
गुड़-चीनी : बाजार में मीठे की आवक लगभग ठीक-ठाक बनी हुई है। माँग सामान्य रहने से चीनी की सभी किस्मों के भाव टिके रहे। गुड़ के दाम भी स्थिर रहे।
दाल-दलहन : माँग एवं आपूर्ति सामान्य रहने से चना स्थिर रहा। सामान्य माँग के कारण दालों में घट-बढ़ देखी गयी। उड़द दाल 150 रुपये और चना दाल 50 रुपये प्रति कुन्तल मजबूत हुये जबकि मसूर दाल में 100 रुपये और अरहर दाल में 50 रुपये प्रति कुन्तल की गिरावट दर्ज की गयी। मूँग दाल में स्थिरता रही।
अनाज : बाजार में अनाज की आवक कमोबेश सामान्य रही। माँग आने से गेहूँ पाँच रुपये प्रति कुन्तल तेज हो गया। इसके अलावा चावल एवं मोटे अनाजों के दाम अपरिवर्तित रहे।

Share it
Top