अगर आप भी स्लिम बनना चाहती हैं तो…अपनाएं ये तरीके

अगर आप भी स्लिम बनना चाहती हैं तो…अपनाएं ये तरीके

selim2 यूं तो स्वस्थ, स्लिम और सुंदर दिखने की ख्वाहिश हर शख्स में होती है, पर महिलाओं में ऐसी चाहत कुछ ज्यादा ही होती है। यही वजह है कि आनन-फानन में अपना वजन कम करने के लिए उनमें एक किस्म की सनक तक सवार है। महिलाओं में स्वस्थ सुंदर और दुबला दिखने को लेकर अनेक भ्रम होते हैं। बेहतर होगा कि सेहत और सुंदरता से जुड़े तमाम भ्रमों को आप जितनी जल्दी हो, दूर कर डालें।
आज की अधिकांश महिलाएं अपने डील-डौल को दुरूस्त करने के लिए जिम जा रही हैं। जिम जाने की महिलाओं की ललक को देखकर ऐसा लगता है कि मानो इन्होंने जिम को अपना दूसरा घर ही बना लिया है। इतना सब कुछ करने के बावजूद महिलाएं अपने ‘वांछित शरीर’ को गढऩे में विफल हो रही हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें व्यायाम डॉयटिंग, फास्टिंग और वजन कम करने से संबंधित बुनियादी जानकारियां नहीं हैं।
इस बात के कोई मायने नहीं कि आपने कितने दिनों तक और प्रतिदिन कितने घंटे तक कसरत की। महत्त्वपूर्ण बात यह है कि वे व्यायाम आपके शरीर की विशिष्ट संरचना से मेल खाते हैं या नहीं। इस सूरते हाल में आपको किसी योग्य फिटनेस विशेषज्ञ से परामर्श लेकर नए सिरे से व्यायाम करने का कार्यक्रम बनाना चाहिए।
”मैं अक्सर कम वसा वाले खाद्य पदार्थ ही खाती हूं। शुगर फ्री डाइट ग्रहण करती हूं। फिर भी मेरे वजन व सेहत पर कुछ भी फर्क पड़ता नजर नहीं आता। तमाम महिलाएं अक्सर इस तरह की शिकायतें करती नजर आती हैं।
selimइस क्रम में भी कुछ बातें समझने की हैं जैसे आपकी दृष्टि में शुगर फ्री चॉकलेट खरीदना सेहत के लिए अच्छा है, इसलिए आप इस आइटम को खरीदती हैं पर यह जरूरी नहीं कि शुगर फ्री चॉकलेट वसा रहित फैट फ्री भी हो, संभवत: शुगर फ्री चॉकलेट में अन्य चॉकलेट की तुलना में वसा कहीं अधिक हो। इसलिए किसी भी उत्पाद को खरीदते समय लेबल को ध्यान से पढ़ें और फिर अपनी बुद्धि पर जोर डालकर यह तय करे कि किस आइटम को खरीदना है और किस को नहीं
एरोबिक्स व्यायाम, डायटिंग आदि ही स्लिम बनने के लिए काफी नहीं हैं। इस क्रम में सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण बात यह है कि आपको एक सुनिश्चित समय पर भोजन करना, सेक्स से दूर न भागना, अस्वस्थ बनाने वाले आहार ग्रहण न करना, वनस्पति तेलों से बने चीजों को न खाना आदि का ध्यान रखना ही होगा।
दिन में कम से कम चार पांच बार अल्पाहार करें। इस संदर्भ में ईमानदारी से किसी खान-पान से संबंधित बातों को किसी डायरी में दर्ज करें। जिस किस्म के आहार को आप पसंद करती हैं, उसे खाने से खुद को वंचित न करें। अपने पसंदीदा व्यंजन का लुत्फ जरूर उठाएं किंतु बुद्धिमानी से।
– पूनम दिनकरadd-royal-copy

Share it
Top