अंग जो खोलें उम्र का राज..जवां दिखने के लिए अपनाएं ये उपाए

अंग जो खोलें उम्र का राज..जवां दिखने के लिए अपनाएं ये उपाए

wrinkles-original अधिकतर महिलाएं अपनी उम्र को छिपाने के लिए सफेद बालों पर कलर करना शुरू कर देती हैं। वे समझती हैं कि बाल ही उनकी उम्र का राज खोलते हैं जबकि शरीर के कई अंग हैं जो आपकी उम्र का राज बयां करते हैं जैसे स्तन, हाथ, गर्दन, बाजू, झुर्रियां, घुटने आदि। आइए देखें किस प्रकार ये अंग हमारी उम्र को झलकाते हैं।
बदरंग हाथ
दिन भर में हाथ पानी में बहुत बार जाते हैं। इससे इनकी प्राकृतिक नमी कम हो जाती है। जब नमी कम होती है तो हाथों पर झुर्रियां अपना कब्जा जमा लेती हैं। दूसरे हाथों पर सूर्य की हानिकारक किरणें हाथों की त्वचा का कसाव खत्म कर देती हैं जिससे त्वचा की नीचे की नाडिय़ां दिखाई देने लगती हैं। इससे हाथ बदसूरत लगते हैं।
इनसे बचने के लिए हाथों को बार-बार साबुन से न धोएं या हल्के कैमिकल्स वाले साबुन का प्रयोग करें। दिन में दो-तीन बार हैंड लोशन लगाएं ताकि त्वचा की नमी बनी रहे। बाहर जाने से पूर्व सनस्क्रीन क्रीम या लोशन अवश्य लगाएं ताकि बाहरी किरणें त्वचा पर प्रभाव न डाल सकें। रात्रि में सोने से पहले थोड़े से ऑलिव ऑयल में चीनी मिलाकर हाथों की त्वचा पर रगड़ें। इससे हाथों को नमी मिलेगी और खून का दौरा भी ठीक रहेगा।
कैसे करें मेकअप..अधिकतर युवतियों को नहीं होती सही जानकारी

ढीले ढाले स्तन
उम्र के साथ स्तनों को सपोर्ट देने वाली मांसपेशियां कमजोर पड़ जाती हैं जिससे उन में ढीलापन आ जाता है। इसी कारण ब्रेस्ट्स ढलकने लगते हैं।
उसके बचाव के लिए अच्छी कंपनी की स्पोर्टस ब्रा पहनें। व्यायाम करते समय स्पोर्ट्स ब्रा अवश्य पहनें। दिन में कभी भी बिना ब्रा के न रहें। कुछ व्यायाम ऐसे करें जिनसे ब्रेस्ट्स की मांसपेशियों में ताकत बनी रहे जिससे वे ब्रेस्ट्स को सपोर्ट दे सकें।
दोनों बाजुओं को बारी-बारी गोल-गोल घुमाएं। बाजू सामने लाकर कलाइयों को घुमाएं। कंधो को गोल-गोल घुमाएं। बाजुओं को दायें-बायें पीछे ले जाएं। बाजुओं में कसाव बना कर रखें ताकि मांसपेशियों में खिंचाव बना रहे। हथेलियों को ब्रेस्ट्स के अगले हिस्से पर रखकर दबाव डालें। अधिक देर तक दबाव न डालें। अधिक से अधिक पांच से दस सेकंड तक दबाव डालें।
चाहें तो कॉस्मेटिक ट्रीटमेंट लेकर भी स्तनों में कसाव बनाए रख सकती हैं पर यह प्रक्रि या बहुत महंगी है। इसमें एक्स्ट्रा स्किन को हटाकर ब्रेस्ट को सही शेप दी जाती है।
चेहरे पर पड़ी झुर्रियां

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, सबसे ज्यादा प्रभाव जबड़ों के पास की त्वचा और गर्दन पर पड़ता है। जो महिलाएं स्मोकिंग करती हैं उनके जबड़े अंदर की ओर भिंच जाते हैं। इससे झुर्रियां एक दम दिखाई देती हैं। आपकी उम्र का राज एकदम खोल देती हैं ये झुर्रियां। इसके लिए जो महिलाएं स्मोकिंग करती हैं, वे स्मोकिंग छोड़ दें। श्वांस भर कर मुंह को फुलाएं। 5 से 10 सेकंड मुंह फुलाए रखें। फिर धीरे-धीरे वापिस लाएं। अपनी चिन गर्दन से मिलाएं, रूकें, वापिस आएं। गर्दन के व्यायाम करें। फेस मसाज अच्छे पार्लर से करवाएं। फेस मास्क लगवाएं। इससे झुर्रियां कम पड़ती हैं। वैसे लाइपोसक्शन प्रक्रि या से भी झुर्रियों से निजात पाई जा सकती है पर यह प्रक्रि या महंगी है।
बांहें
ज्यों-ज्यों उम्र बढ़ती है, बांहों की मसल्स ढीली पड़ जाती हैं। इससे बांहों की स्किन लटकी लटकी लगती है जो उम्र की चुगली करती हैं। बाहों की मसल्स को एक्सरसाइज द्वारा कसाव में रखा जा सकता है। इसके लिए रस्सी कूदना और स्विमिंग करना बेहतर व्यायाम हैं। वैसे हाथों से कपड़े धोना, घर के अन्य कार्यों द्वारा भी मसल्स का कसाव बना कर रखा जा सकता है।
बांहों की नियमित मसाज से अतिरिक्त फैट्स में कमी लाई जा सकती हैं। इसके लिए दोनों हाथों को सामने लाकर बाजुओं को खोलते हुए कंधों तक लाएं, रूकें, वापिस आएं। इस प्रकार 10 बार इस व्यायाम को करें। शरीर के पास दोनों बाहों को सटाएं, फिर धीरे-धीरे सिर के ऊपर कंधों जितने फासले पर ले जाकर रूकें। वापिस आएं। 5 से 10 बार क्रिया दोहराएं।
नेल आर्ट के साथ करें नाखूनों की सही देखभाल

घुटनों और चेस्ट पर पड़ी लकीरें
चेस्ट, गर्दन की त्वचा संवेदनशील होने के कारण इन पर झुर्रियां पड़ जाती हैं। शरीर के ये भाग सूर्य की किरणों के संपर्क में भी रहते हैं।
इसके लिए गर्मी-सर्दी में धूप में बाहर जाने से पूर्व 25 एस पी एफ का सनस्क्र ीन लोशन लगाएं। गर्दन के व्यायाम करें। कॉस्मेटिक क्लीनिक्स से लेजर द्वारा स्किन लेयर को टाइट करवा सकते हैं।
उम्र के साथ घुटनों की मसल्स भी ढीली पड़ जाती हैं जिससे घुटनों के आस-पास लकीरें दिखने लगती हैं। कई बार वजन कम करने से भी लकीरें दिखती हैं।
इसके लिए टांगों के व्यायाम, साइकिलिंग और जोड़ों के व्यायाम करें। घुटनों पर फेशियल किट्स का प्रयोग कर त्वचा को नर्म बनाया जा सकता हैं।
– नीतू गुप्ताआप ये ख़बरें और ज्यादा पढना चाहते है तो दैनिक रॉयल unnamed
बुलेटिन की मोबाइलएप को डाउनलोड कीजिये….गूगल के प्लेस्टोर में जाकर
royal bulletin
टाइप करे और एप डाउनलोड करे..आप हमारी हिंदी न्यूज़ वेबसाइट
www.royalbulletin.com
और अंग्रेजी news वेबसाइटwww.royalbulletin.in को भी लाइक करे..कृपया एप और साईट के बारे में info @royalbulletin.com पर अपने बहुमूल्य सुझाव भी दें…

Share it
Top